पितृ तर्पण के लिए पहले माता पिता का सम्मान करना सीखें

By |2016-11-25T10:08:11+00:00September 28th, 2016|Categories: Hindi|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

  मैं अपने पिता से बहुत प्रेम करता हूँ| मुझे उनके साथ रहने में बहुत आनंद आता है | उनका एक अंश हमेशा मेरे साथ रहता है किंतु एक अंश मेरे भीतर रहता है, सदा ख़याल रखता है| उनका जो अंश मेरे साथ रहता है वह मेरा बहुत ख़याल रखता है, मेरा मार्गदर्शन करता है और [...]

ADVANCE PRATI PRASAV, BHOPAL – WISDOM CAPSULE

By |2016-11-25T09:59:34+00:00September 21st, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

"For ideal outcome, create ideal environment. The kind of thoughts, the kind of body, the kind of rules you have set for yourself will decide what will become of you." "To paint everyone with the same brush is to be racist. To say that all good men have an ulterior motive is to be racist. Every [...]

YOU HAVE A LIVING GURU, PROOF OF SHIVA’S INFINITE LOVE FOR YOU

By |2016-11-25T09:28:18+00:00September 21st, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

"I want to pacify God. The Almighty is upset with me. To hold such a belief is like holding a can of water and attempting to appease the ocean by offering that water to it, hoping that with so much water, the ocean will feel overwhelmed and it will overflow. Dear Shiv Yogi, let me inform [...]

LET THE BEST START FROM ME, LET ME BE THE ACHIEVER OF THE UNACHIEVED

By |2016-11-25T09:26:33+00:00September 19th, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

  "कभी कोई मुकाम ऐसा लगे की यह तो किसी ने पार नहीं किया या कर नहीं पाया तो यह मत, तो यह मत कहना के क्योंकि किसी और ने इसे सिद्ध नहीं किया तो मैं भी नहीं कर सकता| ऐसे में कहना - हे माँ प्रकृति  अगर तुझ में पहल होनी है तो मैं बनु [...]

DON’T DEHYDRATE FAMILY POND, YOU TOO ARE A FISH IN IT

By |2016-11-25T09:23:09+00:00September 19th, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

FAMILY BOND IS LIKE A FISH POND. TAKE WATER OUT, FISH DIES. TAKE LIFE FORCE ENERGY OUT, FAMILY BOND DIES

गुणात्मक जीवन जीने से मिलेगा मोक्ष न की मात्रात्मक जीवन जीने से

By |2016-11-25T09:20:41+00:00September 19th, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

नमः शिवाय! सोमवार को भोपाल के पीपल्स मॉल में शिवयोग एडवांस प्रतिप्रसव शिविर के तीसरे दिन का अनुष्ठान करने पधारे आचार्य ईशान शिवानंदजी ने अपने प्रवचन में गुणात्मक जीवन जीने पर ज़ोर दिया| यह उन्होंने इन शब्दों में ज़ाहिर किया: "नीरस जीवन तो हर कोई जी रहा है| ज़रूरतों की पूर्ति के पीछे तो सभी भाग [...]

ARE YOU A GIVER OR A TAKER?

By |2016-11-26T07:11:10+00:00September 18th, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , |

  "जो मनुष्य केवल लेने का भाव रखता है वह एक ऐसे किसान की भाँती है जो की अपनी फसल को काट चुका है और फिर उस धरती पर विषैले पदार्थों का छिड़काव कर उसे बंजड़ बनाने पर तुला है|"

शिवयोग प्रति प्रसव साधना है आत्मा रुपी बीज को सही प्रकृति देने की प्रक्रिया

By |2016-11-26T07:09:48+00:00September 17th, 2016|Categories: Uncategorized|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , |

शिवयोग प्रति प्रसव साधना है आत्मा रुपी बीज को सही प्रकृति देने की प्रक्रिया;प्रति प्रसव का साधना कक्ष है जैसे आत्मा की व्यायामशाला नमः शिवाय! मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के पीपल्स मॉल में शनिवार को शिवयोग की प्रति प्रसव साधना का आगाज़ करने पहुँचे सिद्ध गुरु अवधूत शिवानंद के सद्शिष्य और सुपुत्र - युवा संत [...]