Hindi

भूत से होके निकलेगी उज्ज्वल भविष्य की डगर

By | 2016-12-02T09:45:22+00:00 December 2nd, 2016|Categories: Blog, Hindi|

भूत से होके निकलेगी उज्ज्वल भविष्य की डगर अरावली हिन्दुस्तान की सबसे प्राचीनतम पर्वत श्रंखला है| हिमालय के पर्वत इसकी तुलना में अभी नन्हें शिशु हैं| इन पर्वतों में एक अनकही चाहत है, अनदेखा आकर्षण है¦ आख़िरकार यह पर्वत उन सब घटनाओं के साक्षी रहे हैं जिनकी कल्पना भी नही की जा सकती| यह [...]

हो सकता है एक गधा आपके जीवन में वरदान हो

By | 2016-11-29T07:44:38+00:00 November 28th, 2016|Categories: Blog, Hindi|Tags: , , , , , |

क्या सुहाना मौसम था| ना ऐसी भीषण गर्मी की मच्छरों और मखियों की भीनभीनाहट सुनाई पड़ती और ना ही ऐसी सर्दी की बंदा बिस्तर से उठने को ऐसे जिझके मानो कह रहा हो मैं पैदा ही क्यों हुआ अगर इतनी गर्माहट से बाहर निकल ठिठुरना ही रह गया था तो| क्या सुबह थी और मुझे ऐसे [...]

शिवयोगी के लिए करवा चौथ का महत्व

By | 2016-11-25T10:15:36+00:00 October 19th, 2016|Categories: Hindi|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

मैं हमेशा से भगवान शिव और माँ पार्वती के चित्रों को देख कर सोचता था की क्यूँ महादेव एक भिक्षु की भाँति रहते हैं और माँ पार्वती गहनो और बेहद्द सुंदर वस्त्रों से सुसज्जित| किंतु यह विचार आने बंद हुए जब मेरा स्वयं का विवाह हुआ क्योंकि हर नारी की तरह मेरी भागवन भी खरीददारी करती, [...]

हमारी व्यवस्था में सिद्धों की व्यवस्था

By | 2016-11-25T10:02:08+00:00 September 30th, 2016|Categories: Hindi|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

सभी महान सभ्यताएँ, सभी महान महाराज, सभी महान साम्राज्य, सभी महान पुरुष एक समानता रखते थी - इन सभी के पास संत रुपी मार्गदर्शक थे| इन सभी के लिए संतों का महत्व था एक आध्यात्मिक सलहाकार के तौर पर, जो की इन सभी को नैतिक मूल्यों में बांधे रखने का कार्य करते थे| यह सभी को [...]

पितृ तर्पण के लिए पहले माता पिता का सम्मान करना सीखें

By | 2016-11-25T10:08:11+00:00 September 28th, 2016|Categories: Hindi|Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , |

  मैं अपने पिता से बहुत प्रेम करता हूँ| मुझे उनके साथ रहने में बहुत आनंद आता है | उनका एक अंश हमेशा मेरे साथ रहता है किंतु एक अंश मेरे भीतर रहता है, सदा ख़याल रखता है| उनका जो अंश मेरे साथ रहता है वह मेरा बहुत ख़याल रखता है, मेरा मार्गदर्शन करता है और [...]

आप अपनी योग्यता से अधिक योग्य हैं

By | 2016-11-26T07:47:05+00:00 September 6th, 2016|Categories: Blog, Hindi|Tags: , , , , , , , , |

आप अपनी योग्यता से अधिक योग्य हैं एक बार कुछ समय पहले की बात है। मैं अपने पिताजी के साथ गंगा माँ के छोर पर बैठा था। अपनी प्राकृतिक निठुरता के साथ वो पावन नदी उस प्रकार बह रही थी की मानो एक उत्सुक मासूम बच्चा बेफिक्र होकर चट्टानों और पत्थरों को नाचते हुए कागज़ समान [...]

Comments Off on आप अपनी योग्यता से अधिक योग्य हैं

दूरी का ध्यान रखें

By | 2016-11-28T06:46:35+00:00 September 5th, 2016|Categories: Blog, Hindi|Tags: , , , , , , , , , , , , , |

दूरी का ध्यान रखें जैसे ही मैंने सागर में एक गहरी डुबकी लगाई, एक नई और खूबसूरत दुनिया मुझे पता चली। एक ऐसी दुनिया जहाँ कोई गुरुत्वाकर्षण नहीं, जहां मैं उड़ान और स्वतंत्रता की भावना के सबसे करीब जा सका। एक विदेशी दुनिया जिसमें मैं अंतरिक्ष में बहते हुए एक ग्रह के सामान था। आकाशगंगाओं के [...]

Comments Off on दूरी का ध्यान रखें

कुएँ का मेंढक बनने का समय समाप्त

By | 2016-11-28T07:10:27+00:00 August 22nd, 2016|Categories: Blog, Hindi|Tags: , , , , , , |

कुएँ का मेंढक बनने का समय समाप्त मैं चाहता हूँ आप इसे अवश्य पढ़ें और अपने हितैषियों के साथ बाँटें जैसे मैं पर्वतों में चलते हुए और गहरा जाता गया तो मैने एक मेंढक के शाव रूप - टैडपोल से भरा हुआ एक तालाब देखा नवजात मेन्ढक तालाब में तैरते हुए, अपने चारों ओर फैले हुए [...]

Comments Off on कुएँ का मेंढक बनने का समय समाप्त

Change (in Hindi)

By | 2016-09-11T06:44:53+00:00 February 26th, 2016|Categories: Blog, Hindi, Quotes|Tags: , |

Change is the only constant. Change is the inevitability of the universe. Change is the one intrinsic trait governing the cosmos. And if change you have to, then redirect the change towards being more divine - every particle, every moment.

Comments Off on Change (in Hindi)